facebook

यूक्रेन के रहने वाले दो युवकों ने एक ऑनलाइन क्विज के जरिए 60 हजार से ज्यादा Facebook यूजर्स को ब्राउजर एक्सटेंशन इंस्टॉल करवाकर उनके प्रोफाइल का डेटा लीक कर डाला। कंपनी ने दायर अपने मुकदमे में इस बात की जानकारी दी। 

टेक्नोलॉजी के लेटेस्ट न्यूज जानने के लिए यह पेज लाइक और शेयर करे :- https://fb.com/TechGuruWeb

द डेली बीस्ट ने एक रिपोर्ट में बताया कि ऐंड्रयू गोब्रेकोव और ग्लेब स्लक्वेस्की ने फेसबुक न्यूज फीड पर अपने खुद के विज्ञापन दिखाने के लिए ब्राउजर एक्सटेंशन का इस्तेमाल किया। फेसबुक ने दायर अपने मुकदमे में बताया कि कीव में रहने वाले उद्यमियों ने कैलिफोर्निया और ऐंटी हैकिंग कानूनों का उल्लंघन किया है और इनके ऊपर फेसबुक के नियमों का उल्लंघन करने के लिए मुकादमा चलाया जाएगा। इसी के साथ कंपनी ने ये भी आरोप लगाया कि इन आरोपियों ने खासतौर पर रूसी भाषी लोगों को टारगेट किया है।

कंपनी ने लिखा है कि एक्सटेंशन इंस्टॉल करने के दौरान ऐप यूजर्स ने खुद के ब्राउजर के साथ समझौता किया। एक्सटेंशन को इस तरह तैयार किया गया था कि जब ऐप यूजर्स फेसबुक या अन्य किसी सोशल नेटवर्किंग साइट पर जाएं तो उस दौरान उनकी जानकारी लीक हो जाए और उन्हें अनऑर्थराइज्ड विज्ञापन नजर आएं। ये दोनों युवक वेब सन ग्रुप नामक कंपनी से ताल्लुक रखते हैं।

कंपनी ने अपनी शिकायत में दावा किया है कि कुल मिलाकर इन दोनों ने फेसबुक यूजर्स द्वारा लगभग 63 हजार ब्राउजरों का इस्तेमाल किया और फेसबुक को 75 हजार डॉलर (करीब 52 लाख रुपये) का नुकसान पहुंचाया। कंपनी ने इस तरह की चीजों को जड़ से खत्म करने की बात भी कही है।

हाल ही में फेसबुक के सीईओ मार्क जकरबर्ग ने फेसबुक यूजर्स के लिए प्राइवेसी फोकस को ध्यान में रखते हुए काम करने के लिए एक नोट पोस्ट किया था। जुकरबर्ग ने अपने नोट में लिखा, ‘मेरा मानना है कि हमें एक ऐसी दुनिया के लिए काम करना चाहिए, जहां पर लोग निजी तौर पर बात कर सकें और इस बात को लेकर बिल्कुल आजाद रहें कि उनकी जानकारी सिर्फ वही देखेगा जिसे वह दिखाना चाहेंगे।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here