spring quinox

Google ने आज अपना Doodle 20-21 मार्च की रात दिखने वाले ‘Super Worm Moon’को डेडिकेट किया है। सुपर वॉर्म मून इस साल का तीसरा सुपरमून है। इस दौरान आसमान में चांद की रोशनी आम दिनों की तुलना में ज्यादा रहेगी। इस बार का सुपरमून बेहद खास है क्योंकि यह Spring Equinox के साथ हो रहा है।

टेक्नोलॉजी के लेटेस्ट न्यूज जानने के लिए यह पेज लाइक और शेयर करे 
For the latest 
tech news and tips and tricks, follow TechGuruWeb on TwitterFacebookInstagram and subscribe to our YouTube channel.

उत्तरी गोलार्ध में स्प्रिंग इक्विनॉक्स को बसंत ऋतु की शुरुआत माना जाता है। इस बार साथ में होने वाले स्प्रिंग इक्विनॉक्स और सुपर वॉर्म मून को एक अद्भुत खगोलिय घटना के तौर पर देखा जा रहा है।सुपरमून की अगर बात करें तो यह साल में करीब तीन बार होता है। इस दौरान चांद पृथ्वी के सबसे नजदीक होता है। पृथ्वी से दूरी कम होने के कारण चांद काफी बड़ा और चमकदार दिखता है। हालांकि सुपरमून और स्प्रिंग इक्विनॉक्स का साथ में होना आम बात नहीं है।

पिछली बार ऐसा साल 2000 में हुआ था और अगली बार अब यह साल 2038 में होगा। आसान भाषा में अगर कहें तो स्प्रिंग इक्विनॉक्स के दिन दिन और रात लगभग बराबर रहते हैं क्योंकि सूर्य इस दिन भूमध्यरेखा के बिलकुल ऊपर से गुजरता है।

20 मार्च की रात 9:42 (EST) को वर्नल इक्विनॉक्स के चार घंटे बाद यह अपने चरम पर होगा। अमेरिका में स्थानीय समय के हिसाब से इसकी शुरुआत 20 मार्च की शाम 6:30 से 7:30 बजे के बीच होगी। अमेरिका के अलावा यह और भी कई पश्चिमी देशों में देखा जा सकता है। भारतीय समय के हिसाब से सुपर वॉर्म मून और स्प्रिंग इक्विनॉक्स की शुरुआत 21 मार्च की रात 3:28 पर होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here