indian rail

भारतीय रेलवे ने अपने यात्रियों को बड़ा तो तोहफा देते हुए दो सेवाएं दी हैं। रेलवे के इस तोहफे से भारतीय रेल में यात्रा करने वाले करोड़ों यात्रियों को फायदा होगा। दरअसल रेलवे ने दो नियमों में बदलाव किए हैं जिनमें एक नियम ट्रेन छूटने की स्थिति में होने वाले घाटे से निजात दिलाएगा। रेलवे के ये दोनों नियम 1 अप्रैल 2019 से लागू हो गए हैं। आइए जानते हैं विस्तार से।

कनेक्टिंग यात्रा का नियम

पहला नियम यह है कि यदि आप बीच में अपनी एक यात्रा खत्म करके दूसरी यात्रा शुरू करते हैं और इसके लिए दो टिकट बुक करते हैं तो आपको बड़ा फायदा होने वाला है। रेलवे की कनेक्टिंग यात्रा करने वाले यात्री अब अपने दोनों टिकट के पीएनआर को आपस में कनेक्ट कर सकेंगे। इसका बड़ा फायदा यह होगा कि यदि किसी कारण यदि आपकी एक ट्रेन लेट हो जाती है और दूसरी ट्रेन छूट जाती है तो एक टिकट का पैसा बेकार नहीं होगा। आपको एक टिकट का पूरा रिफंड मिल जाएगा, लेकिन इसके लिए जरूरी है कि दोनों टिकट में आपके द्वारा दी गई जानकारी एक ही हो। साथ ही पहली टिकट का गंतव्य और दूसरी टिकट का प्रारंभ स्टेशन एक ही होना चाहिए। 

टेक्नोलॉजी के लेटेस्ट न्यूज जानने के लिए यह पेज लाइक और शेयर करे 
For the latest 
tech news and tips and tricks, follow TechGuruWeb on TwitterFacebookInstagram and subscribe to our YouTube channel.

बोर्डिंग स्टेशन बदलने का नियम

1 अप्रैल से लागू नए नियम के तहत आप अपना बोर्डिंग यानि प्रस्थान स्टेशन आसानी से बदल पाएंगे, हालांकि बोर्डिंग स्टेशन बदलने का काम आपको चार्ट बनने से 4 घंटे पहले ही करना होगा। इसका फायदा सामान्य आरक्षण और तत्काल आरक्षण के तहत टिकट लेने वालों को मिलेगा। बता दें कि बोर्डिंग स्टेशन बदलवाने के लिए आप लिखित आवेदन के अलावा आईआरसीटीसी की वेबसाइट से भी आवेदन कर सकते हैं। इसके अलावा आप 139 पर फोन करके भी बोर्डिंग स्टेशन बदलने का अनुरोध कर सकते हैं। इसके लिए आपसे कोई शुल्क नहीं लिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here